Message here

निजी स्वार्थों के लिए कोर्ट का सहारा, में तथाकठित को RWA नही मानता

पूर्वी दिल्ली :  दिलशाद कालोनी ABDE ब्लॉक में RWA के मामले में कोर्ट में इस माह की सात तारीख़ को पेशी है यानी आने वाला सोमवार , मज़ेदार बात ये है की RWA को इस मामले में पार्टी नही बनाया गया है, जिन लोगो को कोर्ट में पार्टी बनाया गया है वो इस प्रकार हैं
1 -पहवा जी (चुनाव आयुक्त)
2- SDM
3- रजिस्ट्रार
उपरोक्त विषय में पूर्व RWA महासचिव जो इस मामले में मुख्य याचिका कर्ता हैं  उनसे  जब हमारे एडमिन एडिटर ने ये समझना चाहा कि क्या वजह है कि आपने RWA को पूरे मामले में पार्टी नहीं बनाया है जबकि आपका सारा वाद विवाद उन्हीं से है ?
RWA के पूर्व महासचिव दीपक ठाकुर ने बताया , हम तथाकथित RWA को RWA नही मानते हैं इसलिए कोर्ट में उन्हें पार्टी नहीं बनाया है , पर विश्वास रखें यदि ज़रूरत महसूस हुई तो सातों व्यक्तियों को पार्टी बनाया जाएगा।
वहीं दूसरी तरफ़  RWA के प्रेसिडेंट शर्मा R K जी फ़रमाते हैं , कालोनी की अवाम ने हमे भारी मतों से जिताया है हमारी जीत पर जिसको शक है, उसको जनता की नियत पर शक है, और जो जनप्रतिनिधि जनता की भावनाओं की इज्जत नही करता जनता उसकी इज़्ज़त नही करती , आज पूरी कालोनी हमे इज़्ज़त की नज़रों से देखती है , कोर्ट में जाने वालों को किस नज़र से देखती है ये वो जानें, पर हम आपके समाचार के ज़रिये अवाम से कहना चाहते हैं कि हमे कोर्ट में अभी तक पार्टी नहीं बनाया गया है , पर अगर हमे कोर्ट में पार्टी बनाया जाएगा तो हम कोर्ट का सम्मान करते हुए कोर्ट में ज़रूर हाज़िर होंगे और कोर्ट को ये बतायेंगे कि किस तरह लोकतांत्रिक देश में अपने निजी हितों और घोटाले उजागर ना होने की वजह से कुछ तत्त्व हारने पर कोर्ट को गुमराह कर रहे हैं ।
ये पूछे जाने पर कि आपके पूरे पैनल के जीतने के बावजूद अभी तक आपको चार्ज हैंड ओवर नही किया गया है ? आप इस बारे में कुछ कर रहे हैं ,, जनाब शर्मा जी ने कहा, जी बिलकुल इस मामले में हम क़ानूनी राय मशवरा ले रहे हैं हमारी एक पूरी टीम इस पर काम कर रही है जल्द ही इस में एक्शन लिया जाएगा।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

error: Content is protected !!