Take a fresh look at your lifestyle.

PNGRB  बोर्ड के सदस्य के लिये डी एस नानावरे और वी एन दत्ता में कांटे की टक्कर

PNGRB  में ख़ाली पड़े मेम्बर के ओहदे को भरने के लिये आवेदन माँगे गये थे,  हमने  पिछली बार अपने पाठकों को सूचित किया था कि  PNGRB के एक सदस्य का चयन ब मुमकिन इस सप्ताह होने के इमकानात हैं, जो सही साबित हुआ, इस ओहदे के लिये  तक़रीबन 16 से 18 उम्मीदवारों ने आवेदन दिए थे जिसमें मात्र छह से सात उम्मीदवारों को ही मुरासलात (इंटरव्यू)के लिए बुलाए जाने की मालूमात सामने आई है, जिन  उम्मीदवारों को मुरासलात के लिए हाजिर होने को कहा गया थे उन में (1)ए के जना, (2)निरंजन कुमार(आईएफ़एस) (3)डी एस नानावरे (4)वी एन दत्ता,(5) एस एन पांडेय ,(6) सुनील कुमार  शामिल थे ।
साइंस में ग्रेविटी का एक आधार है ज़्यादा होने पर भी नुक़सान और कम होने पर भी नुक़सानदेह होती है उम्मीदवारों की सिफ़ारिश की ग्रेविटी इतनी ज़्यादा हो गई कि किसी अन्य क़ाबिल उम्मीदवार को इसका फ़ायदा पहुँचने के इमकानात बन गये। ऐसा माना जा रहा है कि इस ओहदे के लिये  वी एन दत्ता और डी एस नानावरे में कड़ी टक्कर देखने को मिल सकती है।इसमें कोई श़क नहीं वी एन दत्ता और डी एस नानावरे दोनों ही काबिल उम्मीदवार हैं।

ऐसी चर्चायें भी हैं कि क्यूँकि पाईपलाइन के डिस्ट्रिब्यूशन को ले कर ज्यादार मामले इस बोर्ड के पेशे नज़र आते हैं उस हिसाब से डी एस नानावरे अव्वल मिन अव्वल हो सकते हैं, अब देखना ये होगा की कौन इस बाजी को मार कर सिकन्दर कहलायेगा इस का फ़ैसला हम आने वाले नतीज़े पर छोड़ते हैं ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Visitor Reach:1032,824
Certified by Facebook:

X
error: Content is protected !!