Take a fresh look at your lifestyle.

मेरे नाम को इस पद का विकल्प भी न माना जाए-प्रियंका गांधी

(के. पी. मलिक)
नई दिल्ली: राहुल गांधी के इस्तीफा देने के बाद अध्यक्ष विहीन चल रही कांग्रेस में अब प्रियंका गांधी को अध्यक्ष बनाने की मांग जोर पकड़ने लगी है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बाद अब पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने भी कांग्रेस के लिए युवा नेतृत्व को जरूरी बताया है। राहुल गांधी द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष पद छोड़ने के बाद पार्टी के कई बड़े नेता प्रियंका गांधी को इस पद पर देखना चाहते है। अब पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी इसकी वकालत की है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में एक सही विकल्प होगा। हालांकि यह कांग्रेस कार्यसमिति पर निर्भर करेगा। पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा, राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इनकार के बाद प्रियंका गांधी इस पद पर उपयुक्त विकल्प होंगी। पार्टी पर पूरा भरोसा जताते हुए उन्होंने कहा कि अगर वह कांग्रेस अध्यक्ष चुनी जाती हैं तो हर तरफ से उन्हें समर्थन मिलेगा। उन्होंने कहा, ‘पार्टी की बागडोर अपने हाथों में लेने के लिए प्रियंका बिल्कुल सही पसंद होंगी। लेकिन यह पूरी तरह से कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) पर निर्भर करता है। सीडब्ल्यूसी ही इस मामले पर फैसला लेने के लिए अधिकृत है।’ हालांकि, उन्होंने राहुल गांधी के अध्यक्ष पद को छोड़ने पर दुख जताया।

इससे पहले भाजपा से आये शत्रुघ्न सिन्हा ने तो इंदिरा गांधी से की प्रियंका गांधी की तुलना कर दी थी, उन्होंने कहा था कि कहा प्रियंका को ही पार्टी का अगला अध्यक्ष बनाना चाहिए। वही वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने कहा है कि गैर गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बना तो 24 घंटे के अंदर कांग्रेस बिखर जाएगी। इससे पहले कांग्रेस नेता शशि थरूर भी प्रियंका गांधी को इस पद के लिए बेहतर पसंद बता चुके है। मुख्यमंत्री अमरेंद्र सिंह ने पहले भी इस पद के लिए किसी युवा नेता को चुने जाने की वकालत की थी। बता दें कि कांग्रेस नेता शशि थरूर ने एक दिन पहले कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि पार्टी अध्यक्ष पद का चुनाव होने पर महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा इसमें अपनी किस्मत आजमाने को लेकर फैसला करेंगी, लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि यह गांधी परिवार का फैसला होगा कि प्रियंका इस पद के लिए चुनाव लड़ेंगी या नहीं।

उधर, कांग्रेस के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रियंका गांधी ने अध्यक्ष बनने से इनकार किया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा प्रियंका से जब अध्यक्ष पद के बारे में पूछा गया तो इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अध्यक्ष पद का सवाल ही पैदा नहीं होता है। और मेरे नाम को इस पद का विकल्प भी न माना जाए। उन्होंने कहा था कि वह पार्टी में महासचिव के पद पर आगे भी काम करती रहेंगी। कांग्रेस के विश्वसनीय सूत्रों से जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के सीनियर नेताओं को बंद लिफाफे में एक नाम देने के लिए कहा गया है। इस पद के लिए अब तक सहमति नहीं बन पाई है। कांग्रेस अध्यक्ष पद की प्रक्रिया में कांग्रेस सात वरिष्ठ नेताओं का नाम शामिल किया गया है जिसमें मल्लिकार्जुन खड़गे, सुशील कुमार शिंदे, दिग्विजय सिंह, कुमारी शैलजा, मुकुल वासनिक, सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम शामिल हैं।
(लेखक देश के प्रतिष्ठित हिंदी समाचारपत्र ‘दैनिक भास्कर’ में ‘राजनीतिक संपादक’ हैं)

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Visitor Reach:1032,824
Certified by Facebook:

X
error: Content is protected !!