Take a fresh look at your lifestyle.

मंसूरी एजुकेशन एन्ड वेलफेयर सोसाइटी ने किया हाई स्कूल व इंटरमीडिएट के छात्र -छात्राओं को सम्मान

सीखने के लिए एक जूनून पैदा कीजिये : सरदार,तालीम वो हथियार हैं जिससे दुनिया बदल सकते हैं : साजिद

मुज़फ्फरनगर । जनपद मुज़फ्फरनगर  के अभिलाषा पैलेस में मंसूरी एजुकेशन एन्ड वेल्फेयर सोसाइटी ने हाई स्कूल व इंटरमीडिएट के छात्र -छात्राओं का किया गया सम्मान प्रोग्राम ।मंसूरी एजुकेशन एन्ड वेल्फेयर सोसाइटी के प्रोग्राम में मुख्य अतिथि वरिष्ठ पत्रकार व प्रमुख समाज सेवी सरदार अहमद (नावल) व अतिथि मुफ्ती दिलनवाज़ रहे तथा अध्यक्षता हाजी नसीम मंसूरी ने की । संचालन सयुक्त रूप से इन्तेजार मंसूरी व आरिफ मंसूरी ने किया ।जिसमें सैकड़ो छात्र -छात्राओं को मैडल व सम्मान – पत्र देकर सम्मानित किया ।मुख्य अतिथि सरदार अहमद ने बोलते हुए कहा कि मंसूरी एजुकेशन एन्ड वेलफेयर सोसाइटी ने जो ये सम्मान प्रोग्राम को आयोजित किया हैं वह काबिले तारीफ हैं जो किपश्चिमी उत्तर प्रदेश में मंसूरी समाज ने पहली बार एजुकेशन को लेकर छात्र – छात्राओं को सम्मानित किया हैं ।

इससे समाज मे एक अच्छा संदेश दिया हैं।इससे छात्र – छात्राओं में उत्साह बढ़ता हैं । शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि मंसूरी समाज को शिक्षा की ओर जागरूक करने का जो बिगुल बजाया गया है अब उसको शांत नही किया जाएगासीखने के लिए एक जूनून पैदा कीजिये. यदि आप कर लेंगे तो आपका विकास कभी नहीं रुकेगा , शिक्षा का उद्देश्य है युवाओं को खुद को जीवन भर शिक्षित करने के लिए तैयार करना ।

अध्यक्षता कर रहे हाजी नसीम मंसूरी ने कहा कि शिक्षा की जड़ कड़वी है पर उसके फल मीठे हैं , साथ ही कहा कि वो जो स्कूल के दरवाजे खोलता है, जेल के दरवाजे बंद करता है ।मुफ्ती दिलनवाज़ मंसूरी ने चन्द शब्दो मे कहा कि शिक्षा स्वतंत्रता के स्वर्ण द्वार खोलने के कुंजी है । मंसूरी एजुकेशन एन्ड वेलफेयर सोसाइटी के संचालक साजिद मंसूरी (नावला) ने कहा कि मंसूरी समाज मे पहले बेटियो की शिक्षा पर कम ध्यान दिया जाता था , लेकिन पहले के मुकाबले अब बेटियों को शिक्षा बढ़ाया जा रहे हैं और हमारी सरकार भी बेटियो के लिए काफी योजनाए लागू कर रही।

पढ़े बेटियां – बढ़े बेटियां आदि योजनाएं चलाई जा रही हैं । और कहाँ कि तालीम वो हथियार हैं जिससे पूरी दुनिया बदल सकते हैं । बच्चों को शिक्षित किया जाना चाहिए , पर उन्हें खुद को शिक्षित करने के लिए भी छोड़ दिया जाना चाहिए।बिना शिक्षा प्राप्त किये कोई व्यक्ति अपनी परम ऊँचाइयों को नहीं छू सकता , बेटा ओर बेटियों में कोई फर्क ना समझे सभी को समानता से रखे । जल्द ही डोर टू डोर शिक्षा अभियान चलाया जाएगा जो गरीब – मजबूर छात्र -छात्राए और शिक्षा ग्रहण करने के लिए पैसा नही वो काम मंसूरी एजुकेशन एन्ड वेलफेयर सोसाइटी करेगी । साजिद मंसूरी , पत्रकार मेहरबान अली कैरानवी ,तहसीन मंसूरी ,खुर्शीद मंसूरी ,महताब मंसूरी,आबिद अब्दुल कासिम मंसूरी , आदि वक्ताओं ने आपने विचार रखे । प्रोग्राम को सफल बनाने में मुख्य रूप से हाजी मुरसलीन मंसूरी , अब्दुल कासिम मंसूरी , साजिद मंसूरी , शहनवाज मंसूरी , राशिद मंसूरी , महताब मंसूरी , ख़ुर्शीद मंसूरी , बसीद मंसूरी , नोशाद मंसूरी शहनवाज मंसूरी ,रियासत मंसूरी ,इंतेजार मंसूरी ,साजिद मंसूरी ,पत्रकार मेहरबान अली कैरानवी , पत्रकार वसीम मंसूरी , आदि गणमान्य लोग मौजूद रहे ।

भीषण गर्मी में राहगीरो को पिलाया शर्बत …

मंसूरी एजुकेशन एन्ड वेलफेयर सोसाइटी ने सम्मान प्रोग्राम के बाद भीषण गर्मी होने के कारण रहागिरो को शर्बत भी पिलाया ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Visitor Reach:1032,824
Certified by Facebook:

X
error: Content is protected !!