Take a fresh look at your lifestyle.

चाहे कुर्बानी भी क्यो न देनी पड़े किसी कीमत पर पंजाब में नही बनने देंगे खलिस्तान-शांडिल्य बोले

नई दिल्ली- भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा खालिस्तानी संगठन सिख फॉर जस्टिस पर प्रतिबंध लगाने पर एंटी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं श्री हिन्दू तख्त के राष्ट्रीय प्रचारक वीरेश शांडिल्य ने केंद्र सरकार का आभार जताया व कहा कि जल्द ही फ्रंट के हजारों सदस्य मोदी को सरदार पटेल अवार्ड से सम्मानित करेंगे । वही वीरेश शांडिल्य ने कहा प्रतिबंध लगाने के बाद सिख फ़ॉर जस्टिस के माध्यम से खलिस्तान रेफरेंडम 2020 की मुहिम छेड़ रहे गुरपतवंत सिंह पन्नू व भारत के मोस्ट वांटेड आतंकी परमजीत सिंह पम्मा के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर उन्हें गिरफ्तार करवाने के लिए भी विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर को मिलकर एंटी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया व श्री हिन्दू तख्त उन्हें ज्ञापन देगा । एटीएफआई प्रमुख वीरेश शांडिल्य ने कहा चाहे कुर्बानी भी क्यों न देनी पड़े वह कभी खालिस्तान नही बनने देंगे । उन्होंने कहा सिख फॉर जस्टिस पर प्रतिबंध लगाने का मोदी सरकार का यह कदम पंजाब व विदेश में बैठे मुट्ठी भर खालिस्तानियों के मुहं पर तमाचा है । शांडिल्य ने कहा कि खालिस्‍तान ना कभी बना था, ना बनेगा और ना बनने देंगे । उन्‍होंने कहा कि यह देश एक है और पंजाब हमेशा से ही भारत का हिस्‍सा रहा है ।
वीरेश शांडिल्य ने कहा केंद्र सरकार खालिस्तानी समर्थक जरनैल सिंह भिंडरावाला के साहित्य व सामग्री बिकने पर भी रोक लगाए ताकि देश की एकता और अखंडता बनी रहे । उन्होंने कहा ऐसी सामग्री से देश के युवा भृमित होते है जी देश के लिए अच्छे संकेत नही है । शांडिल्य ने कहा इससे पहले भी उन्होंने 2010 में पंजाब में भिंडरावाला के साहित्य बिकने पर प्रतिबंध लगवाने के लिए हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी जिसपर मुख्य न्यायधीश ने पंजाब के डीजीपी को प्रतिबन्ध के आदेश दिए थे । उन्होंने कहा अगर सामग्री बिकनी बन्द न हुई तो वह अदालत का दरवाजा पुनः खटखटाएंगे ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Visitor Reach:1032,824
Certified by Facebook:

X
error: Content is protected !!